♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

अरविंद केजरीवाल के PA बिभव कुमार पर FIR दर्ज: तीन दिन बाद खुलकर बोलीं आप सांसद स्वाति मालीवाल, पुलिस ने दर्ज किए बयान

13 मई को सीएम अरविंद केजरीवाल से मिलने पहुंचीं स्वाति मालीवाल के साथ सीएम आवास पर विभव कुमार ने मारपीट व बदसलूकी की थी, जिसके बाद स्वाति ने सीएम आवास से ही पीसीआर कॉल पुलिस को खबर दी थी। बाद में वह पुलिस थाने भी पहुंची थीं, लेकिन वह बिना शिकायत दिए ही वहां से निकल गईं।इस मामले में पुलिस ने भी जानकारी दी कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार पर एफआईआर दर्ज कर ली है। दिल्ली पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने के इरादे से उस पर हमला या आपराधिक बल), 506 (आपराधिक धमकी), 509 (अपमान करने के इरादे से शब्द संकेत या कृत्य), 323 (हमला) और आईपीसी की अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

उधर, सोमवार मुख्यमंत्री आवास पर हुए घटनाक्रम के बाद से आप ने मामले को शांत करने की पूरी कोशिश की थी। बड़े सियासी नुकसान से बचने के लिए शीर्ष नेतृत्व ने एड़ी-चोटी का जोर लगाया। घटना के दूसरे दिन मंगलवार सांसद संजय सिंह खुद मीडिया के सामने आए और बताया कि बिभव कुमार ने स्वाति मालीवाल के साथ सीएम आवास पर दुर्व्यहार किया है। मुख्यमंत्री ने संज्ञान में लेकर उचित कार्रवाई का आदेश दिया है। इससे एकबारगी लगा कि मामला शांत हो गया है और आप डैमेज कंट्रोल कर लेगी। बावजूद इसके स्वाति मालीवाल की नाराजगी दूर नहीं हुई और संजय सिंह बुधवार एक बार फिर उनसे मिलने उनके आवास पहुंचे। लंबी बातचीत भी बेतनीजा रही।मुलाकात के बाद मीडिया में कोई बयान दिए बगैर वह वापस लौट गए। दूसरी तरफ बुधवार देर रात लखनऊ के दौरे पर मुख्यमंत्री केजरीवाल के साथ बिभव कुमार भी दिखाई दिए। भाजपा इसको लेकर गुरुवार सुबह से हमलावर रही। शाम होते-होते स्वाति ने खुद ही बता दिया कि वह मामले में उचित कार्रवाई की अपेक्षा कर रही हैं। करीब साढ़े चार घंटे तक पुलिस के सामने बयान दर्ज कराया है। इसके बाद सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी शेयर की।

मेरे साथ जो हुआ, वह बहुत बुरा था। मेरे साथ हुई घटना पर मैंने पुलिस को अपना बयान दिया है। मुझे आशा है कि उचित कार्रवाई होगी। पिछले दिन मेरे लिए बहुत कठिन रहे हैं। जिन लोगों ने प्रार्थना की, उनका धन्यवाद करती हूं। जिन लोगों ने चरित्र हनन की कोशिश की, ये बोला की दूसरी पार्टी के इशारे पर कर रही हैं, भगवान उन्हें भी खुश रखे। देश में अहम चुनाव चल रहा है। स्वाति मालीवाल जरूरी नहीं हैं। देश के मुद्दे जरूरी हैं। भाजपा से खास गुजारिश है इस घटना पे राजनीति न करें। दिल्ली प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष ऋचा पांडेय मिश्रा के नेतृत्व में गुरुवार को एक प्रतिनिधिमंडल स्वाति मालीवाल के घर पहुंचा। उन्होंने मालीवाल के सहायक को एक पत्र सौंपा। इसमें कहा गया है कि हाल ही में मालीवाल से मुख्यमंत्री आवास पर हुई निंदनीय घटना के बारे में जानकर महिला मोर्चा अत्यंत चिंतित और व्यथित है। हमारी राजनीतिक विचारधारा भले ही अलग है, लेकिन महिला के रूप में हम सब आपके साथ हैं। आप महिला अधिकारों के लिए हमेशा से सजग रही हैं। जब मुख्यमंत्री आवास जैसे सुरक्षित स्थान पर आपके साथ दुर्व्यवहार हो सकता है तो एक दिल्ली की सामान्य महिला की सुरक्षा की स्थिति क्या होगी, यह सोचकर ही डर लगता है। एक महिला सांसद के साथ इस प्रकार का अभद्र व्यवहार न केवल आपके प्रति अन्याय है, बल्कि यह पूरे देश की महिलाओं का अपमान है। इस असंवेदनशील और शर्मनाक कृत्य ने हमें झकझोर कर रख दिया है। भाजपा महिला मोर्चा आपके साथ खड़ा है। इस कठिन समय में आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को लेकर चिंता है। मालीवाल घटना की पूरी सूचना पुलिस की अवश्य दें, ताकि दोषी पर सख्त कार्रवाई हो सके।

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275