♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

जालंधर में भाजपा नेता की पत्नी ने की परिवार से परेशान होकर आत्महत्या मायके वालों का आरोप, दहेज के लिए बेटी को तंग कर रहा था ससुराल

पंजाब के जालंधर में एक महिला ने फंदा लगाकर आत्महत्या की है। मृतक महिला भाजपा नेता की पत्नी है। महिला की मौत के लिए भाजपा नेता पति आरोप लगे हैं। आरोप है कि महिला ने पति से परेशान होकर पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी की है। कंटोनमेंट बोर्ड जालंधर कैंट के पूर्व उप प्रधान एवं पूर्व काउंसलर भरत अटवाल उर्फ जौली की पत्नी सुनैना ने घर में ही पंखे से फंदा लगाकर जान दी है। परिवार सुनैना का शव पंखे से लटकता हुआ देखा तो वह उसे उतार कर एसजीएल अस्पताल ले गए, जहां डाक्टरों ने उसे मृत करार दे दिया। पुलिस ने मृतका के पति सहित परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ केस दर्ज किया है। हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। मृतका सुनैना के मायके वालों ने जालंधर सिटी के महर्षि वाल्मीकि चौक पर धरना देकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की।सुनैना की मां वंदना देवी निवासी धोबीघाट मालेरकोटला का आरोप है कि सुनैना को शादी के बाद ससुराल वाले उसे लगातार दहेज की मांग को लेकर परेशान कर रहे थे। सुनैना की शादी 7 महीने पहले जालंधर कैंट निवासी भरत अटवाल जौली से हुई थी। शादी के दौरान करीब 22 लाख रुपये भी खर्च किए थे।बावजूद ससुराल परिवार ने सुनैना को शादी के बाद तंग करना शुरू कर दिया। बेटी ने कई बार उससे जिक्र किया कि उसको बहुत परेशान किया जा रहा है। ससुराल परिवार ने सभी हदें पार कर दी तो उसने दुखी होकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

मृतका की मां ने रिश्तेदारों के साथ थाने के बाहर सड़क पर बैठकर धरना लगाया। क्योंकि पुलिस आरोपियों के खिलाफ ढीली कार्रवाई कर रही थी। थाना जालंधर कैंट प्रमुख इंस्पेक्टर गगनदीप सिंह शेखों द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद सुनैना के मायके परिवार ने अपना रोष प्रदर्शन खत्म किया। वंदना देवी के बयानों पर पुलिस ने थाना जालंधर कैंट में मृतका के पति भरत अटवाल जौली, सास देवी, ससुर शोभा राम, ननद सोनिया, ताया ससुर की बेटियों मनीशा व मोनिका के खिलाफ अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। सभी आरोपी फरार हैं और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं वीरवार दोपहर को सुनैना के शव का पोस्टमार्टम सिविल अस्पताल से करवाया गया। बाद में परिवारिक सदस्यों ने दोबारा धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की।

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

ਲੋਕ ਸਭਾ ਹਲਕਾ ਜਲੰਧਰ ਇਸ ਵਾਰ ਕੌਣ ਬਣੇਗਾ ਤੁਹਾਡਾ ਮੈਂਬਰ ਪਾਰਲੀਮੈਂਟ ਆਪਣੀ ਰਾਏ ਜਰੂਰ ਦਿਓ

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275