♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

बिहार से अवैध हथियार लाकर पंजाब में बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़ 7 पिस्टल, 4 मैगजीन और 300 ग्राम हेरोइन समेत 4 आरोपी गिरफ्तार

बिहार से अवैध हथियार लाकर पंजाब में बेचने वाले गिरोह का कपूरथला पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। जिला पुलिस के सीआईए स्टाफ विंग ने मुख्य सरगना समेत चार युवाओं को सात पिस्टल, चार मैगजीन और 300 ग्राम हेरोइन की खेप के साथ दबोचा है। पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी मुख्य सरगना बिहार में बैंक डकैती के केस में पुलिस को वांछित है। पकड़े गए चारों अपराधी पेशेवर अपराधी हैं और जेल से जमानत पर बाहर आए हुए हैं। थाना सिटी में चारों के खिलाफ एनडीपीएस और असलहा एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। जबकि गैंग का 5वां साथी थाना करतारपुर पुलिस को लूट के मामले में वांछित है।पुलिस लाइन कपूरथला में प्रेसवार्ता में एसएसपी वत्सला गुप्ता ने बताया कि एसपी-डी सरबजीत राय, डीएसपी-डी गुरमीत सिंह व सीआईए स्टाफ इंचार्ज जरनैल सिंह पर आधारित टीम को इनपुट मिला कि एक पेशेवर अपराधी जिले में नाजायज हथियार सप्लाई करने के लिए आ रहा है। एसएसपी ने बताया कि सीआईए स्टाफ के एसआई सतपाल सिंह उच्चाधिकारियों की देखरेख में गश्त कर रहे थे कि कांजली रोड के नजदीक गुरु नानक पार्क के समीप उन्हें एक युवक पीठ पर एक बैग लटकाए आता दिखाई दिया, जो पुलिस की गाड़ी देखकर कांजली के जंगल की तरफ मुड़ गया। इस पर पुलिस टीम ने पीछा करके उसे दबोच लिया। उसके बैग की तलाशी ली तो उसमें चार लोडेड पिस्टल 32 बोर और 300 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। पुलिस ने पहले चारों पिस्टल के मैगजीन अलग किए और पूछताछ शुरू की तो उसने अपना नाम नीरज कुमार उर्फ धीरज कुमार उर्फ धीरज यादव निवासी कुर्की थाना मीनापुर जिला मुजफ्फर नगर बिहार बताया। उसने माना कि उस पर बिहार में बैंक डकैती और आर्म्स एक्ट तथा थाना साहनेवाल लुधियाना में 288 किलो गांजा का केस दर्ज है। एसएसपी ने बताया कि नीरज पेशेवर अपराधी है और बिहार की बैंक डकैती के केस में पुलिस को वांछित है। 25 वर्षीय नीरज ने पुलिस को बताया कि 15 दिन पहले उसने तीन पिस्टल 18 वर्षीय आकाशदीप उर्फ काशू और 22 वर्षीय तेजपाल उर्फ लाली दोनों निवासी गांव पाड़ा जिला जालंधर और 21 वर्षीय राहुल उर्फ गद्दी निवासी करतारपुर जिला जालंधर 50-50 हजार रुपये में बेचे थे। पुलिस ने नीरज की निशानदेही पर तीनों पिस्टल 7.5 एमएम बरामद करके तीनों को भी गिरफ्तार कर लिया।

एसएसपी ने बताया कि नीरज गांजा के मामले में लुधियाना जेल में बंद था और उसी जेल में काशू, लाली और राहुल भी बंद थे, वहीं नीरज ने इन तीनों से मिलकर अपना गैंग बना लिया। नवंबर को नीरज और उक्त तीनों युवा जमानत पर बाहर आए। नीरज ने बिहार में अपने पुराने साथियों से संपर्क करके हेरोइन व अवैध हथियार की तस्करी करके पंजाब में बेचने शुरू कर दिए। एसएसपी के अनुसार नीरज बिहार से 25 हजार से 30 हजार के बीच हथियार लाकर पंजाब में युवाओं को 40 से 50 हजार रुपये के बीच में बेचता था। काशू, लाली और राहुल पर थाना करतारपुर में तीन लड़ाई-झगड़े, लूट और अपहरण के केस दर्ज हैं। एसएसपी के अनुसार नीरज एक दिन पहले तीन अप्रैल को अपने पांचवें साथी अबु निवासी पाड़ा जिला जालंधर के साथ मिलकर गांव कुदोवाल थाना करतारपुर से एक बाइक और एक आईफोन छीना था। बाइक उसने 15 हजार रुपये में नवांशहर में बेच दिया। जबकि आईफोन उसने करतारपुर में बेचा और अगले दिन कपूरथला में दबोचा गया। अबु थाना करतारपुर के लूट के मामले में वांछित है। एसएसपी ने बताया कि इन चारों को अदालत में पेश करके रिमांड हासिल किया जाएगा। रिमांड दौरान कई अहम खुलासे होने की संभावना है।

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 82529 92275